Romo check plus test strips | How to use diabetes test strips safely  

    

नमस्कार साथियों आज हम Romsons कंपनी से निर्मित Romo check plus test strips उपकरण के संबंध में बात करने वाले हैं,आइए इस उपकरण के बारे में विस्तार से जानते हैं:-

अगर कोई व्यक्ति डायबिटीज के मरीज हैं, तो उनका फर्ज है कि आप अपने ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) को रेगुलर मॉनिटर करते रहें। क्योंकि यह तो आप जानते ही हैं कि डायबिटीज के मरीज की देखभाल करने के लिए ब्लड शुगर टेस्टिंग सबसे जरूरी स्टेप होती है। अगर कोई व्यक्ति डायबिटीज के मरीज हैं, तो उसको कंट्रोल करने के लिए या जटिलताओं को होने से रोकने के लिए ब्लड ग्लूकोज सेल्फ टेस्टिंग करना बहुत जरूरी होता है। चिंता न करें, इसके लिए रोज-रोज डॉक्टर के पास या टेस्टिंग लैब जाने की जरूरत नहीं है। आप घर पर ही आसानी से डायबिटीज टेस्ट Romo check plus test strips से ब्लड शुगर की जांच कर सकते हैं। यह एक तरह का छोटा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होता है, जिसको ब्लड शुगर मीटर कहते हैं। यह डायबिटीज टेस्ट स्ट्रिप्स (Diabetes test strips) के साथ आता है, जिसमें आप अपने ब्लड के जरिए शुगर टेस्ट कर सकते हैं।

ब्लड ग्लूकोज टेस्ट स्ट्रिप्स, ब्लड ग्लूकोज टेस्टिंग का अहम कंम्पोनेंट होता है। वैसे ब्लड टेस्ट (Blood Test) दो तरह से होता है- एक डेली टेस्ट और दूसरा तीन महीने में टेस्ट। तीन महीने के अंतराल में जो टेस्ट होता है, उसको एचबीए1सी (HbA1C) कहते हैं। इस टेस्ट से 2-3 महीनों के अंतराल में कितना ब्लड शुगर है,Romo check plus test strips के द्वारा इसकी जांच करके पता लगाया जाता है। एचबीए1सी टेस्ट से डॉक्टर्स को यह समझने में आसानी होती है कि इस अंतराल में ब्लड शुगर कितना कंट्रोल हुआ है।              

इसके अलावा दूसरा टेस्ट होता है ब्लड ग्लूकोज टेस्ट। इससे भी ब्लड ग्लूकोज के स्तर (Blood Glucose Level) की जांच की जाती है। डॉक्टर द्वारा बताए गए Romo check plus test strips उपकरण के द्वारा समय के अनुसार ब्लड शुगर की जांच करने से, आपको शुगर के लेवल को कितना नियंत्रित करना है, कितना नहीं, इसके बारे में स्पष्ट झलक मिल जाती है। यहां तक कि यह भी पता चल जाता है कि आपको कौन-सी दवा या डायट (Diet) लेनी चाहिए। इसके अलावा आपकी शारीरिक गतिविधि का स्तर क्या होना चाहिए, इसके बारे में भी पता चल जाता है। अगर आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ता और घटता है तो घर पर ब्लड ग्लूकोज मॉनिटर होने पर बहुत लाभ मिलता है।        

Why are diabetes test strips necessary –  डायबिटीज टेस्ट स्ट्रिप्स क्यों है जरूरी  

ब्लड शुगर टेस्ट का पहला फंक्शन होता है, Romo check plus test strips ब्लड शुगर लेवल के बारे में सही जानकारी देता है और वह इन सब मामलों में मदद करता है:- 

1.ब्लड शुगर हाई (High Blood Sugar) है या लो, इसका पता लगाने में करता है मदद

2.डॉक्टर ने जो दवा दी है उसका शुगर पर कैसा प्रभाव पड़ रहा है,

3.ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) पर निर्भर करता है कि आपकी शारीरिक गतिविधी क्या होगी,

4.इसके अलावा स्ट्रेस (Stress) या दूसरी बीमारियों का असर शुगर लेवल पर कैसा पड़ रहा है,

How do Romo check plus test strips diabetes test  work  –  रोमो चेक प्लस टेस्ट स्ट्रिप्स डायबिटीज टेस्ट कैसे काम करता है

आइए दोस्तों, प्रयोग करने के पहले Romo check plus test strips के काम करने का तरीका जान लेते हैं। डायबिटीज टेस्ट स्ट्रिप्स में बहुत तरह की तकनीकों का इस्तेमाल किया जाता है। प्लास्टिक स्ट्रिप्स पर सोने का लेप होता है। सोने के इस लेप को एक पैटर्न में काटा जाता है जो सर्किट की तरह काम करता है। स्ट्रिप के एक किनारे पर केमिकल का लेप होता है। वह स्पंज की तरह ब्लड के ड्रॉप सोख लेता है और ग्लूकोज को इलेक्ट्रिसिटी में बदल देता है। यह इलेक्ट्रिकल सिग्नल स्ट्रीप से मीटर तक जाता है। मीटर में जो नंबर दिखता है वह इलेक्ट्रिक करेंट की स्पीड के अनुसार होता है। जितना शुगर का लेवल ज्यादा होगा उतना सिग्नल स्ट्रॉन्ग होगा।

डायबिटीज टेस्ट स्ट्रिप्स (Diabetes test strips) पर टेस्ट के लिए, आम तौर पर 0.5 μl से 1 μl ब्लड की जरूरत पड़ती है।       

When should blood glucose be measured – ब्लड ग्लूकोज को कब मापना चाहिए

* अध्ययनों के अनुसार, जब भी डायबिटीज का मरीज अस्वस्थ महसूस करें, उसे Romo check plus test strips से अपना ब्लड शुगर का लेवल माप लेना चाहिए।

* सर्जरी के पहले ब्लड ग्लूकोज का लेवल माप लेना चाहिए, ताकि सर्जरी के दौरान या जनरल एनेस्थेटिक के बाद मरीज अस्वस्थ न हो जाए। इसके बाद तब तक नियमित तौर पर जांच करते रहना चाहिए, जब तक कि मरीज खाना-पीना सही तरह से न कर रहा हो।

* जिनको डायबिटीज हाल ही में हुआ है, उनको अपना ब्लड ग्लूकोज का लेवल तब तक चेक करना चाहिए, जब तक कि ग्लूकोज का लेवल स्टेब्ल न हो जाए।    

What is used to test blood glucose – ब्लड ग्लूकोज टेस्ट करने के लिए क्या-क्या इस्तेमाल होता है

1.एल्कोहॉल स्वैब

2.ग्लूकोमीटर

3.कॉटन उल/गॉज

टेस्ट स्ट्रिप्स ( डेट चेक कर लें और स्ट्रिप्स हवा के संपर्क न आएं हो इसकी भी जांच कर लें)    

Right time to test blood sugar with Romo check plus test strips – रोमो चेक प्लस टेस्ट स्ट्रिप्स के द्वारा ब्लड शुगर चेक करने का सही समय

साथियों,आप किस समय पर खाना खाते हैं, दवा लेते हैं और ब्लड शुगर को कंट्रोल करते हैं उसी आधार पर डॉक्टर, ब्लड शुगर टेस्ट करने का समय निर्धारित करते हैं। चेकअप के दौरान डॉक्टर मरीज को ब्लड शुगर चेक करने का चार्ट और किस लेवल तक कंट्रोल करना है इसका भी टार्गेट देते हैं। आपकी अवस्था के अनुसार ही डॉक्टर टार्गेट स्थिर करते हैं।        

How to measure blood sugar – ब्लड शुगर कैसे मापे

ब्लड शुगर मापने के पहले Romo check plus test strips के डब्बे पर जो निर्देशन दिया गया है उसको अच्छी तरह से पढ़ लें। उसके बाद डॉक्टर ने जो सलाह दी है उसको फॉलो करने की पूरी तरह से कोशिश करें-

टेस्ट (Test) करने के लिए सबसे पहले अपने हाथों को धोकर अच्छी तरह से सुखा लें।

जिस जगह से ब्लड लेने वाले हैं उस जगह को एल्कोहॉल पैड से साफ कर दें। अधिकतर ग्लूकोज मीटर में फिंगरटिप से ब्लड सुई चुभोकर निकाला जाता है। इसके अलावा कुछ दूसरे मीटरों में, जांघ या हाथ में जहां चर्बी ज्यादा रहती है वहां से भी ब्लड लिया जाता है।

आप खुद ही फिंगरटीप से ब्लड (Blood) ले सकते हैं, इस तरीके से दर्द कम होगा।

ब्लड की बूंद जो आप सुई चुभोकर ले रहे हैं, वह डायबिटीज टेस्ट Romo check plus test strips पर रख दें। जैसा लिखा हुआ है, वैसे ही नियम पालन करना चाहिए।

उसके बाद मीटर ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) बताएगा।

यदि आपकी बीमारी की अवस्था गंभीर है, तो डॉक्टर नियमित रूप से टेस्ट करने की सलाह दे सकते हैं।

टेस्ट हो जाने के बाद स्ट्रीप को डस्टबीन में फेंक दें। यूज किए हुए स्ट्रीप को न इस्तेमाल करें और न ही दूसरे से शेयर करें।    

How long do Romo Check Plus test strips work – रोमो चेक प्लस टेस्ट स्ट्रिप्स कब तक काम करते हैं

Romo Check Plus test strips बॉक्स के ऊपर यूज करने की डेट लिखी हुई रहती है। टेस्ट स्ट्रिप ब्रांड के आधार पर या बॉक्स के निर्देश के अनुसार ही इस्तेमाल करना ठीक होता है। बॉक्स खोलने के 3-6 महीने के अंदर टेस्ट स्ट्रिप का इस्तेमाल कर लेना सही होता है। अगर आपके पास एक से ज्यादा टेस्ट स्ट्रिप का बॉक्स है तो, पुराने वाले को सबसे पहले इस्तेमाल कर लेना अच्छा होता है।

डायबिटीज के मरीजों के लिए ब्लड ग्लूकोज टेस्ट करना जितना जरूरी है, उतना ही उसका रिजल्ट भी सही आना आवश्यक है। इसलिए जरूरी है कि ऊपर बताए गए टिप्स के मदद से डायबिटीज टेस्ट स्ट्रिप्स (Diabetes test strips) का इस्तेमाल सही तरह से करें और टेस्ट का रिजल्ट सही पाएं। इससे आप डायबिटीज को आसानी से कंट्रोल कर पाएंगे और स्वस्थ एवं फिट रहेंगे। आपकी स्वस्थ जीवन की कामना के साथ, यह भी समझ लें कि ऊपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी घरेलू उपचार, दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।                  

Product Description – उत्पाद वर्णन

रक्त ग्लूकोज परीक्षण पट्टी शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को निर्धारित करने में मदद करती है। इसे किसी भी मैनुअल कोडिंग की आवश्यकता नहीं है और परेशानी मुक्त उपयोग की अनुमति देता है। प्रत्येक पट्टी में एक सुरक्षात्मक बाधा और एक लंबी शेल्फ-लाइफ होने के साथ, इन उपयोग में आसान रोमो चेक परीक्षण स्ट्रिप्स का उपयोग लंबी अवधि में किया जा सकता है।

Romo check plus test strips ब्लड ग्लूकोज टेस्ट स्ट्रिप्स एक रासायनिक अभिकर्मक प्रणाली के साथ पतली स्ट्रिप्स हैं। वे Romo check ग्लूकोमीटर के साथ केवल पूरे रक्त में ग्लूकोज की मात्रा को मापने के लिए काम करते हैं।  

* Romo check plus ब्लड ग्लूकोज मीटर का उपयोग करके पूरे रक्त में ग्लूकोज की जांच के लिए।

* आत्म परीक्षण और व्यावसायिक उपयोग के लिए

* केवल शरीर के बाहर उपयोग के लिए

नोट-ऊपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी घरेलू उपचार, दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

Product Description – उत्पाद वर्णन

रक्त ग्लूकोज परीक्षण पट्टी शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को निर्धारित करने में मदद करती है। इसे किसी भी मैनुअल कोडिंग की आवश्यकता नहीं है और परेशानी मुक्त उपयोग की अनुमति देता है। प्रत्येक पट्टी में एक सुरक्षात्मक बाधा और एक लंबी शेल्फ-लाइफ होने के साथ, इन उपयोग में आसान रोमो चेक परीक्षण स्ट्रिप्स का उपयोग लंबी अवधि में किया जा सकता है।

Romo check plus test strips ब्लड ग्लूकोज टेस्ट स्ट्रिप्स एक रासायनिक अभिकर्मक प्रणाली के साथ पतली स्ट्रिप्स हैं। वे Romo check ग्लूकोमीटर के साथ केवल पूरे रक्त में ग्लूकोज की मात्रा को मापने के लिए काम करते हैं।  

* Romo check plus ब्लड ग्लूकोज मीटर का उपयोग करके पूरे रक्त में ग्लूकोज की जांच के लिए।

* आत्म परीक्षण और व्यावसायिक उपयोग के लिए

* केवल शरीर के बाहर उपयोग के लिए

यह भी पढ़ें:- https://zeebiz.in/romsons-gloves/