rajkotupdates.news : tax saving pf fd and insurance tax relief

 

rajkotupdates.news : tax saving pf fd and insurance tax relief – साथियों, सैलरी पाने वालों को टैक्स बचाने के लिए टैक्स सेविंग फिक्स डिपाजिट भी एक अच्छा विकल्प है | यह एक ऐसी FD है, जिसमें आप 1.5 लाख रुपए तक का टैक्स बचा सकते हैं | इसमें 5 साल की लॉक इन अवधि होती है | वेतन भोगी वर्ग के लिए यह एक सुरक्षित कर बचत विकल्प है | अगर आप वेतन भोगी या नौकरी पेशा आदमी हैं या आपका कोई बड़ा व्यवसाय है तो आपको टैक्स सेविंग करने के बारे में जानकारी होनी चाहिए क्योंकि अगर आपका रोजगार अच्छा है और आप अपनी व्यवसाय से अच्छी इनकम करते हैं तो, ऐसे ना आपको ट्रैक्स से मिलने वाली छूट की पूरी जानकारी होनी चाहिए | 

कहां पर टैक्स देना होता है और टैक्स की बचत कैसे की जाती है उसके बारे में जानना बहुत ही आवश्यक है |  इस आर्टिकल के द्वारा आज हम सैलरी अकाउंट में पाने वाले के साथ-साथ निदेशकों को कुछ जरूरी जानकारी देने वाले हैं | अगर आप भी रिटायरमेंट लेने के वक्त फंड को एकत्रित करना चाहते हैं | जिससे आप अच्छे से अपना जीवन यापन कर सके तो हम आपको यहां कुछ ऐसी जरूरी जानकारी देने वाले हैं और rajkotupdates.news : tax saving pf fd and insurance tax relief के बारे में बताने वाले हैं जहां जहां पर आप अपना टैक्स सेविंग कर सकते हैं | 

इस आर्टिकल के माध्यम से हम कुछ विशेष सहकारी योजनाओं के बारे में बताएंगे जिससे आप अपने इनकम और सेविंग पर होने वाले tax पर अधिक से अधिक छूट  के साथ अपने टैक्स का पैसा बचा सकते हैं | 

rajkotupdates.news : tax saving pf fd and insurance tax relief जी हां, आप जानते हैं कि बड़े बिजनेसमैन के साथ-साथ अब सहकारी वेतन भोगियों को भी income tax return भरना होता है | ऐसे में यदि आप भी ट्रैक्स भरते हैं तो आपको अपने भविष्य के लिए स्कीम की जानकारी होनी चाहिए | इसका यह फायदा होता है कि कुछ सहकारी योजनाओं में (tax saving scheme) आपको निवेश किए हुए fund पर टैक्स की छूट दी जाती है | जिससे आपके टैक्स का पैसा बचता है और दूसरा सबसे महत्वपूर्ण फायदा यह है कि आपके लिए रिटायरमेंट के बाद एक अच्छा रकम इकट्ठा हो जाता है | जिससे आपअपने लाइफ का एंजॉय लें और आराम से गुजार सकें | 

तो आइए जानते हैं टैक्स सेविंग पीएफ एफडी और इंश्योरेंस टैक्स राहत के कुछ योजनाओं के बारे में | यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है | यहां पर आपको सभी जानकारियां सरल शब्दों में मिलने वाली है इसलिए इस आर्टिकल को आप अंत तक अवश्य पढ़ें | 

rajkotupdates.news : tax saving pf fd and insurance tax relief के लिए 5 विकल्पों के बारे में जानकारी देते हैं | 

टैक्स सेविंग के 5 बेहतर विकल्प निम्न है:- 

1.Tax exemption on ELSS (ईएलएसएस पर टैक्स छूट) 

ELSS (Equity linked saving schemes) यह स्कीम वेतन भोगियों के लिए शेविंग और टैक्स बचाने का बेहतर प्लान है | इनकम टैक्स की धारा 80C के तहत इस स्कीम में भी टैक्स पर छूट का फायदा मिलता है | ELSS  में आप प्रति वर्ष निवेश करके 1.5 लाख रुपये का टैक्स बचत करने का दावा कर सकते हैं और 46,800 रुपए प्रति वर्ष टैक्स में बचत कर सकते हैं |

2.Tax exemption on tax saving FDs (टैक्स सेविंग FD पर टैक्स छूट) FDs (fixed deposit)  

टैक्स बचाने के लिए यह एक बेहतर प्लान है | वेतन भोगी अपना टैक्स बचाने के लिए fd में 1.5 लाख रुपये तक का प्रति वर्ष निवेश कर सकते हैं | इस स्कीम को इनकम टैक्स एक्ट की धारा 80C के तहत टैक्स बचाने की अनुमति देती है | इस टैक्स सेविंग स्कीम में न्यूनतम 5 वर्ष के कार्यकाल के तहत आप सावधि जमा के पश्चात 1.5 लाख तक रुपए की टैक्स बचत कर सकते हैं | 

3.Tax exemption on NPS (एनपीएस पर टैक्स छूट) 

NPS (national pension scheme) हिंदी में इसको राष्ट्रीय पेंशन योजना कहा जाता है | यह एक तरह का सहकारी निवेश स्कीम है | सहकारी योजना या स्कीम के जरिए वेतन भोगियों को रिटायरमेंट के बाद पेंशन दी जाती है | इस स्कीम में निवेश धारा 80CCE के तहत 1.5 लाख राशि तक टैक्स पर छूट दी जाती है | 

इस स्कीम में कोई भी कामकाजी या वेतन भोगी व्यक्ति पेंशन खाते में योगदान देकर इस योजना का लाभ उठा सकता है | खास बात यह है कि इस पेंशन योजना में जमा की गई राशि का 60 प्रतिशत हिस्सा व्यक्ति रिटायरमेंट के पहले भी निकाल सकता है शेष 40 प्रतिशत उसके पेंशन के लिए जमा हो जाता है | जो उनके रिटायरमेंट के बाद मिलना शुरू हो जाता है | 

4.Tax exemption on Epf (ईपीएफ पर टैक्स छूट) Epf (employees provident fund) 

हिंदी में से हम कर्मचारी भविष्य निधि कहते हैं | कर्मचारी भविष्य निधि वेतन भोगी लोगों के लिए सबसे आसान कर बचत विकल्पों में से एक है | इसमें भी 80C के तहत टैक्स छूट मिलती है | ईपीएफ का प्रबंधन केंद्रीय न्यासी बोर्ड द्वारा किया जाता है | आपको बता दें कि पीएफ खाते मैं अर्जित ब्याज सालाना 2.5 लाख रुपए तक कर मुक्त है | रिटायरमेंट फंड बनाने का यह बेहतर विकल्प है |

5.Tax exemption on PPF,LIC premium ( पीपीएफ, एलआईसी प्रीमियम पर टैक्स छूट)  

पीपीएफ पब्लिक प्रोविडेंट फंड टैक्स सेविंग का सबसे अच्छा विकल्प है | इस निवेश में मैच्योरिटी राशि और ब्याज के साथ-साथ टैक्स फ्री भी होता है | लंबी अवधि में सुरक्षित निवेश और बड़ा फंड बनाने का यह एक बेहतर तरीका है | पीपीएफ खाते में निवेश पर सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट मिलती है | वहीं अगर आपने एलआईसी की पॉलिसी ली है तो इससे प्रीमियम पर टैक्स डिडक्शन क्लेम कर सकते हैं | 80C में अधिकतम 1.5 लाख रुपए तक टैक्स छूट ली जा सकती है | 

FD क्या है ? 

FD जिसे अंग्रेजी में fixed deposit कहते हैं | यह एक तरह का सेविंग स्कीम है | जिसमें लंबे समय के लिए पैसा को जमा किया जाता है तथा अवधि समाप्त होने पर निश्चित ब्याज पर राशि वापस निकाल ली जाती है | आप किसी भी बैंक में या योजना में फिक्स्ड डिपाजिट करा कर टैक्स में छूट पा सकते हैं | 

साथियों, हम उम्मीद करते हैं कि हमारा यह आर्टिकल rajkotupdates.news : tax saving pf fd and insurance tax relief आपको पसंद आया होगा लेकिन साथियों, अगर आपको यहां पर किसी प्रकार की जानकारी में कोई समस्या उत्पन्न हुई है तो आप इसके लिए हमसे संपर्क करें | अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे Like एवं अपने साथियों के साथ अवश्य शेयर करें जिससे वह भी सरकारी योजनाओं की जानकारीआसानी से प्राप्त कर सकें |